Technology Hindi Solution: WordPress Tutorial

आपको यहॉ Computer Tricks In Hindi, Computer Learning Blog In Hindi, Seo Tips In Hindi, Internet, Phone, Facebook, Android, Computer Tips And Tricks In Hindi, Best How To Article In Hindi, Ms Word, Ms Excel, Technology News In Hindi, Learn Hindi Typing, Google Seo Tips In Hindi,hacking trick,computers hacking ,mobile hacking ,hacking tools use ,Technology ,nono Technology , Facebook Tricks In Hindi ,tech news in hindi जो आपके कम्प्यूटर ज्ञान को बढाने में सहायक हो सकते हैं

New Post

Showing posts with label WordPress Tutorial. Show all posts
Showing posts with label WordPress Tutorial. Show all posts

Friday, March 29, 2019

WordPress के लिए Privacy Policy Page कैसे बनाएं- Technology Hindi Solution

March 29, 2019 0

i am parthik thakur 

welcome to technology solution website

WordPress के लिए Privacy Policy Page कैसे बनाएं - Technology Hindi Solution

          

नमस्कार ! एक Privacy Policy Page visitors को site के contents की source और site पे appear होने वाले Ads की information देती है.

ये आपके blog को credibility और trustworthiness देता है. बहुत से Ad serving programs, जैसे की Google AdSense, आपके blog को advertising network पे allow करने से पहले आपकी privacy policy page देखते हैं.
इसलिए, आपके लिए अपने blog में  privacy policy page add करना बहुत जरुरी है.
आज इस article में मैं आपको बताऊंगा की Privacy Policy Page कैसे बनाएं, और use अपने Blog में कैसे add करें.
ज़रूर पढ़िए:
  1.  WordPress क्या है? -Technology Hindi solution
  2.   WordPress.com और WordPress.org में क्या है - Technology Hindi solution
  3.  WordPress के लिए Privacy Policy Page कैसे बनाएं - TechnologyHindi solution
  4.  WordPress Blog पर AMP keise  Set kare in hindi -Technology Hindi solution
  5.  WordPress के लिए Right Web Hosting Choose कर ? Technology Hindi solution
  6. CDN Setup कर Blog की Speed बढ़ाये -Technology Hindi solution

Creating A Privacy Policy Page For Your Blog in Hindi

आप अगर चाहें तो खुद से अपनी privacy policy लिख सकते हैं, अगर आपके पास knowledge हो तो. हालांकि, बहुत से bloggers एक  perfect privacy policy pages बनना नहीं जानते, इसलिए बहुत से third party privacy policy generators हैं, जिनसे आप free में privacy page generate कर सकते हैं.इस article में मैं SerpRank.com की services का use करूँगा.
  • SerpRank के privacy policy generator page में जाएँ.
  • ये page आपसे आपकी Site का URL और Email Address पूछेगा.
  • अगर आपका blog cookies use करता है, (अगर आप advertising serve करते हैं, तो आपका page जरूर cookies use करता ही होगा ), तो “Yes, we use cookies” option select करें.
  • Advertiser information वाले space में, advertising solutions को select करें, जिन्हें आप अपने blog में पैसे कमाने के लिए use करते हैं.
                          privacy policy generator hindi
  • Form भर लेने के बाद, “Create my Privacy policy” option select करें. आपके blog का privacy policy page तैयार है. Ab इस information को text document के रूप में copy करें.

Create किये हुए Privacy Policy Page को अपने Blog में कैसे Add करे  ?

  • Blogger Blog के लिए : Blogger में  Dashboard > Pages में जाएँ. अगर आप WordPress Blog use कर रहे हैं, तो  Dashboard > Pages > Add New पर जाएँ.
  • Create a new blank page में जाएँ और Copy की हुई privacy policy को यहां paste कर दें. इससे Privacy Policy Page create हो जायेगा.
    अब अपने page को publish करें
Congratulations! अब आपने successfully अपने blog का Privacy Policy Page बना दिया है, और publish कर दिया है.

Conclusion

Privacy Policy Page से आप अपने readers के प्रति blog की trustworthiness बढ़ा सकते हैं. अपने readers को अपना Privacy policy page दिखाना, बहुत ही beneficial है. Google AdSense ने भी अपने terms and conditions में आपके अपने blog में Privacy policy जरूर रखने को कहा है. इसलिए, जाइये और जल्दी से अपने page के लिए Privacy Policy बनाइये, और फिर advertising networks से पैसे कमाइए.



Thanks for reading. I hope you liked it. Please share in social media and give feedback in comments
Read More

Thursday, March 21, 2019

WordPress क्या है ?- Technology Hindi Solution

March 21, 2019 0

i am parthik thakur 

welcome to technology solutions  website

WordPress क्या है  ? - Technology Hindi Solution

Hello Everyone! WordPress एक open source Content Management System (CMS) है जो की users को dynamic websites और blogs बनाने में हेल्प करता है.



WordPress web का सबसे  popular blogging system है. जो की users को अपने CMS से website edit, customize और manage करने की facility देता है.

Content Management System (CMS) क्या है ?

Content Management System (CMS) एक ऐसा software है. जो की बहुत सारा डेटा जैसे की text, photos, music, documents etc. को store करता है और हमारी website में available करवाता है. ये website के contents को modify, edit और publish करने में help करता है.


WordPress History (वर्डप्रेस  का इतिहास)

WordPress 27th May, 2003 को Matt Mullenweg और Mike Little के द्वारा launch किया गया था. वर्डप्रेस को October 2009 में open source के रूप में declare किया गया था.


ज़रूर पढ़िए:
  1.  WordPress क्या है? -Technology Hindi solution
  2.   WordPress.com और WordPress.org में क्या है - Technology Hindi solution
  3.  WordPress के लिए Privacy Policy Page कैसे बनाएं - TechnologyHindi solution
  4.  WordPress Blog पर AMP keise  Set kare in hindi -Technology Hindi solution
  5.  WordPress के लिए Right Web Hosting Choose कर ? Technology Hindi solution
  6. CDN Setup कर Blog की Speed बढ़ाये -Technology Hindi solution
WordPress Features (वर्डप्रेस की सुविधाओं )
  • User Management: ये user information manage करने में help करता है, जैसे की user का role चेंज करना users से (subscriber, contributor, author, editor or administrator) बनना , user को create or delete करना , password और user information change करना. User manager का main part है Authentication.
  • Media Management: ये एक tool है जो की media files and folder को manage करता है. इससे आप अपनी website पे अपनी files को easily upload, organize and manage कर सकते हैं.
  • Theme System: ये site view को modify करने में help करता है. इसमें images, stylesheet, template files and custom pages होते हैं.
  • Extend with Plugins: बहुत सरे plugins available होते हैं जो की user की needs के अनुसार custom functions and features provide करते हैं.
  • Search Engine Optimized: ये search engine optimization (SEO) tools provide करता है जो की on-site SEO को simple बना देता है.
  • Multilingual: ये page के सभी contents को user के instructions के अनुसार किसी भी language में translate कर सकता है.
  • Importers: ये user को post के रूप में data import करने में help करता है. ये custom files, comments, post pages and tags import करता है.
जब भी हम एक blog start करने के बारे में सोचते हैं , हम बहुत सरे options के बीच confuse हो जाते हैं , जैसे की Blogger, WordPress, Tumblr etc.

हम किस blog platform को select करें ये इस बात पे depend करता है की हम blog के साथ क्या करना चाहते हैं. अगर आप blog सिर्फ fun के लिए या अपना एक personal journal maintain करने के लिए बनना चाहते हैं तो आप BlogSpot, WordPress.com, या Tumblr use कर सकते हैं क्योंकि ये free भी हैं और easy to manage भी.

अगर आप अपने business को promote करने के लिए या पैसे कमाने के लिए blog बना रहे हैं तो professional platform जैसे की WordPress.org (self hosted) use कर सकते हैं.

WordPress Plugins

WordPress plugins वर्डप्रेस software की खासियत हैं.ये आपको आपकी वर्डप्रेस featured site में नई features add करने में help करते हैं. हर चीज़ के लिए WordPress plugin है. आपको सिर्फ plugin find करने हैं और उन्हें अपनी site में add करना है.

WordPress Themes

WordPress theme के through आप अपने website के design को change कर सकते है.WP में बहुत से Free theme option मिलेंगे and बहुत से premium भी.इसका use करके आप easily effective website create कर सकते है.

Advantages (फायदे)

  • Customization easy hai, user ki needs ke anusaar.
  • ये एक open source platform है और free में available है.
  • User की needs के अनुसार इसमें CSS files modified की जा सकती हैं.
  • इसमें बहुत से plugins and templates free में available हैं. User इन plugins को अपनी need के अनुसार modify कर सकता है.
  • इसमें contents को edit करना बहुत easy है , क्योंकि ये WYSIWYG editor (What You See Is What You Get) use करता है , यानि आप जैसा लिखेंगे वैसा ही user को दिखेगा , commands का उसे किये बिना.
  • Media files easily and quickly upload हो जाती है.
  • Customization easy है , user की needs के अनुसार.

Disadvantages (नुकसान)

  • बहुत सरे plugins use करने से website heavy हो सकती है जिससे loading slow हो जाएगी.
  • WordPress website में modification करने के लिए PHP knowledge होना जरुरी है.
  • Graphic images and tables को modify करना difficult है.
Thanks for reading. I hope you liked it. Please share in social media and give feedback in comments
Read More

Wednesday, December 12, 2018

Blogger में HTML Sitemap कैसे add करें -technology hindi solution

December 12, 2018 0
Blogger blog में HTML Sitemap कैसे add करें – the way to add HTML Sitemap in Blogger blog ?

 hy Friends! how are you ? Welcome again to technologyhindisolution.com . दोस्तों आज के इस पोस्ट में मैं आपको बताऊंगा की Sitemap क्या होता है ? Sitemap कितने प्रकार के होते हैं और Blog में HTML Sitemap कैसे add करे.

       Sitemap क्या होता है और यह कितने प्रकार के होते हैं ?

Sitemap एक file होता है जो की blog के पोस्ट और pages का collection एक जगह पर store करके रखता है जिससे user और search engine को आपके सभी blog पोस्ट और pages एक जगह पर मिल जाते हैं जो की user और search engine दोनों के लिए ही आसान होता है|


दुसरे शब्दों में कहें तो Sitemap एक index के जैसा होता है जो की सभी पोस्ट के लिंक को एक जगह पर add करके रखता है जिससे user और search engine दोनों ही किसी भी पोस्ट आसानी से search कर सकें| जैसे आपने किताब में देखा होगा की सबसे पहले index page रहता है जो सभी chapter और topic का paging और नाम रखता है जिससे reader उस topic को आसानी से किसी एक pagingपर search कर सकें|


ज़रूर पढ़िए:



Sitemap दो प्रकार के होते हैं पहला XML Sitemap और दूसरा HTML Sitemap.



XML sitemap भी एक file होता है जिसका extension .xml होता है| यह blog या website के सभी पोस्ट और pages के assortmentको एक जगह पर रखता है जो की search engine के लिए useful होता है| XML sitemap search engine के द्वारा use होता है| जब भी कोई search engine आपके blog post या page को index करता है तो वह सबसे पहले sitemap file को देखता है उसके बाद ही आपके blog में enter करता है|


HTML sitemap भी एक file होता है जिसका extension .HTML होता है| यह blog के सभी पोस्ट के लिंक को एक जगह पर store करके रखता है जिससे user आसानी से किसी भी पोस्ट को search कर सकता है| HTML sitemap, user के लिए useful होता है| यह easy type में यानि की clear text के type में blog पोस्ट के लिंक को एक जगह पर add करके रखता है|

XML और HTML sitemap में केवल एक ही distinction है की XML sitemap search engine के द्वारा use होता है जबकि HTMLsitemap user के द्वारा use होता है|


Blogger blog में HTML sitemap कैसे add करें ?


यदि आप अपने blogger blog में HTML sitemap को add करना चाहते हैं तो उसके लिए आपको कुछ code add करने पड़ेंगे| और एक नया page create करना होगा जो की Sitemap page होगा|

सबसे पहले निचे दिया गया CSS code को copy करें|

Read More

Thursday, November 1, 2018

WordPress.com और WordPress.org में क्या है- Technology Hindi Solution

November 01, 2018 0

i am parthik Thakur 

welcome to Technology solution website

WordPress.com और  WordPress.org में  क्या  है - Technology Hindi Solution

WordPress आपको दो  types के software's provide करता है – WordPress.com and WordPress.org


Technology solutions

.org
 “self hosted WordPress blog” के नाम से जाना जाता है, जिसके बारे में मैं आपको थोड़ी देर में बताऊंगा.

WordPress.com

WordPress.com automattic के द्वारा provide किया गया एक free blogging platform है, जहाँ हर कोई free में blog बना सकता है. जब आप WordPress.com में एक blog create करते हैं तो आपको एक web address मिलेगा, जैसे “name.WordPress.com”. आपका blog WordPress server पे host किया जाता है. ये एक perfect platform है उनके लिए जो अपनी personal writings को host करने के लिए blog use करना चाहते हैं.
यहाँ बहुत से paid add-ons भी available होते हैं, और आप custom domain names भी खरीद सकते हैं, paid themes भी use कर सकते हैं.

लेकिन WordPress.com में आप के ऊपर blog manage करने पे बहुत सारी limitations भी होती हैं.

ये दो सबसे बड़ी limitations (पाबन्दी ) हैं :

  • आप third party plug-ins install नहीं कर सकते.
  • आपके पास limited themes की ही choice होती है.
एक personal blog के point of view से ये एक बुरा option नहीं है, क्युकी WordPress team आपके blog को manage करती है और उसका backup भी रखती है.


    WordPress.com अच्छा इनके लिए है :

    • ये individuals के लिए अच्छा platform है, जो की अपना personal blog start करना चाहते हैं.
    • Companies को ऐसे web-space की जरुरत होती है announcements के लिए, जहाँ design और branding important नहीं हैं.

    WordPress.com बुरा इनके लिए है :

    • ऐसे लोग जो blog से पैसे कमाना चाहते हैं.
    • ऐसी companies जो की अपनी marketing के लिए blog का use कर रही हैं.
    • ऐसे लोग जो अपने blog पे fully control (FTP, Custom code, Custom Plug-ins etc.) करना चाहते हैं.
    ये थी WordPress.com की details, अब मैं आपको WordPresss.org के बारे में बताऊंगा.

    WordPress.org : Self hosted plastform

    WordPress.org एक perfect platform है उनके लिए जो blog से पैसे कमाना चाहते हैं, small business promote करना चाहते हैं, या एक e-commerce site बनाना चाहते हैं.

    WordPress.org को use करने के लिए WordPress की official site से WordPress की एक copy download करिये और उसे अपने hosting server पे install करिये. क्युकी WordPress.org दुनिया के सबसे popular platforms में से एक है, बहुत सी hosting companies, like Fantastico आपको एक click में ही WordPress install करने की facility देती हैं.

    WordPress.org और WordPress.com के interfaces similar हैं (यानी WordPress का dashboard)


    WordPress ka dashboard
                                                  Pic credit – WordPress.org

    WordPress.org वो सभी limitations हटा देता है जो की WordPress.com में हैं, और आप अपनी site पे complete control कर सकते हैं.

    WordPress.org से आप क्या कर सकते हैं :

    • आप custom themes create कर सकते हैं, third party themes install कर सकते हैं.
    • Third Party plug-ins install कर सकते हैं.
    • बहुत तरीको से पैसे कमा सकते हैं (जैसे AdSense, affiliate marketing, in-text ads, paid reviews etc.)

    WordPress के कुछ और interesting Facts -Technology solution

    • कुछ दुनिया की सबसे popular sites (Like TechCrunch, CNN, Forbes) WordPress VIP के द्वारा sponsor की जाती हैं.
    • दुनिया की 19% websites WordPress ही sponsor करती है.
    • WordPress का app हर popular mobile platform के लिए available है (Android, Blackberry, iOS).
    • आप search engine friendly migration की help से अपने  WordPress.com या Blogger.com के blog को migrates कर के self-hosted WordPress.org बना सकते हैं.
    • WordPress.org individuals और companies के लिए पैसे कमाने के लिए एक perfect platform create करता है.
    • आप बहुत सी jobs post कर सकते हैं और पा भी सकते हैं Freelancer.com जैसे marketplaces से.
    Thanks For reading. I hope you liked my post. Give your feedback in comments and share in social media.
    Read More

    WordPress के लिए Right Web Hosting Choose करे ? - Technology Hindi Solution

    November 01, 2018 0

    WordPress के लिए Right Web Hosting Choose                   करे ? Technology Hindi Solution

    Hey friends! आपकी Web hosting company, आपके online business की success में बहुत important role अदा करती है. यहाँ  मैं आपसे  Web-hosting technologies की latest information देता रहूँगा, ताकि आप बाकी लोगों से आगे रहे. आज मैं आपको कुछ ऐसी tips दूंगा जो की आपको आपकी WordPress Blog के लिए सही Web hosting select करने में help करेंगी.



    Self Hosted WordPress blog एक professional blog start करने का सबसे best तरीका है. एक self-hosted blog start करने के लिए, आपको सिर्फ एक Web hosting और एक domain name चाहिए. 

    हालांकि, सबसे मुश्किल काम भी है, domain name और web-hosting चुनना. Domain name के बारे में मैंने पहले भी एक article लिखा है जिसे आप पढ़ सकते हैं. आज मैं आपको एक quick guide दूंगा जो आपको आपके WordPress powered blog के लिए best hosting select करने में help करेगा.

    Best WordPress Blog Web hosting की Qualities

    2016 एक innovation (नए inventions) का साल है, और क्योंकि WordPress अब दुनिया की 25% websites को host कर रहा है, बहुत सी web hosting companies अपने hosting packages ला रही हैं

     WordPress bloggers के लिए. WordPress Blogs और Websites के लिए एक easy और powerful platform है, और इसे एक अच्छा hosting environment भी चाहिए.

    Good से मेरा मतलब है, hosting जिसे की optimize किया गया है, WordPress Blog run करने के लिए. आपको कोई भी other hosting नहीं खरीदनी चाहिए, जब तक वो WordPress के लिए एक suitable hosting होने का criteria पूरा नहीं करती. जब आप “best WordPress Web-hosting” के बारे में search करेंगे, आप बहुत सारी suggestions के बीच confuse हो जायेंगे. इस लिए मैं आपको आज इस post से help करने जा रहा हूँ. चलिए, कुछ factors पे ध्यान देते हैं, जो की एक hosting को WordPress Blog के लिए idle बनाते हैं. मैंने नीचे best hosting भी recommend किये हैं WordPress के लिए.


                                          Customer support: Technology hindi solutions

      WordPress एक memory hogging software है, और सबसे पहले मैं आपको technical support पे ध्यान देनी की सलाह दूंगा. बहुत सी hosting companies बहुत अच्छी ‘before sales support’ provide करती हैं,

       but ‘after support’ बिलकुल नहीं देती. For example, Hostgator Hosting में, आपको live chat पे response पाने के लिए 30 minutes wait करना पड़ता है.

      WordPress Blogs hacking और high CPU usage जैसी दिक्कतों से हमेशा प्रभावित होती हैं, और बहुत बार buggy script के कारण websites down हो जाती हैं. अगर आपकी hosting live chat support करती है,

       तो आप जल्दी से इस problem के बारे में report कर सकते हैं. Phone support usually ज्यादातर hosting provide करती हैं, but live chat support से, आप की life और भी आसान हो जाएगी.

      Imagine करिये की आपकी site 30 minutes के लिए down हो जाये  ? आप एक potential customer, reader या opportunity को गवा सकते हैं. ये ensure कर लीजिये की आपकी hosting company real-time support offer करती हो. अभी तक, मैंने SiteGround और Cloudways से अच्छा support पाया है.

      Uptime

      Uptime एक सबसे main factor है, जिसपे आपको ध्यान देना चाहिए. ये आपके readers और search engine ranking, दोनों के लिए अच्छा है. Cheap web hosting में uptime की दिक्कत होती है, ज्यादातर time आपकी website down रहेगी, और customer service We are looking into it.” ये message show करेगी. इससे बचने का सबसे अच्छा तरीका है,ऐसी hosting select करें जो maximum up-time provide करे. अभी के time में बहुत सी hostings, जैसे Kinsta या Page.ly 100% Uptime offer करती हैं.

      एक fun fact, बहुत सी web-hosting companies आपको 99.9% up-time offer करेंगी. क्या आप जानते हैं की उनका potential downtime कितना होगा ?
      • 43m 49.7s (एक month में )
      • 8h 45m 57.0s (एक  year में )

      Compatibility

      Best blogging platforms में से एक होने के बाद भी, WordPress एक memory hogging software है. आप ये जरूर ensure करें की आपकी hosting latest PHP offer कर रही है और updated OS (Operating System) use कर रही हैं. आप hosting खरीदने से पहले sales team से ये सब पूछ सकते हैं. WordPress Blogs के लिए minimum hosting की requirements ये हैं :
      • PHP 5.6 or greater
      • MySQL 5.6 or greater
      • The mod_rewrite Apache module
      अगर आप किसी hosting के pre-sales representative से बात करें तो PHP और mySQL का version जरूर पूछें. ऊपर बताये गए version से पुराने version unacceptable हैं, इसलिए उन्हें avoid करें.

      cPanel

      ज्यादातर users जो WordPress use कर रहे हैं, वो उतने ज्यादा geek नहीं हैं. cPanel hosting से आपकी life और भी आसान हो जाएगी. आप जल्दी से जल्दी addon domains add कर सकते हैं, FTP account बना सकते हैं, और cPanel GUI की मदद से और भी बहुत कुछ कर सकते हैं.

      Bandwidth and storage

      हालांकि unlimited जैसा कुछ भी नहीं होता, क्या आपको लगता है, की इस दुनिया में कुछ unlimited हो सकता है ? बहुत सी Webhosting unlimited resources offer करती हैं, जो की किसी भी high traffic blog के लिए काफी हैं. ऐसी hosting को select करें जो की storage और bandwidth के लिए maximum resources provide करें.

      एक चीज़ ध्यान में रखें, बहुत सी web-hosting companies extra charge लेती हैं, अगर आप allocated (दी गयी ) resource से ज्यादा use कर लेते हैं.

      Tip: अगर आप एक new WordPress Blog बनाने जा रहे हैं और आपका traffic कुछ महीनो के लिए low रहने वाला है, आप budget hosting use कर सकते हैं, जैसे In Motion Hosting or DreamHost. बाद में आप high-end Web-Hosting use कर सकते हैं, जैसे की SiteGround और Kinsta.

      Recommended WordPress Webhosting:

      ये 4 Web-Hosting companies हैं जिन्हें WordPress software recommend करता है :
      • Bluehost
      • SiteGround
      • Dreamhost
      • Flywheel
      उम्मीद है, आपको web hosting select करने में कुछ help मिली होगी. अगर कोई भी quarry हो तो comments में पूछें.    Technology solutions


      Thanks for reading. I hope you liked it. Please share in social media and give feedback in comments
      Read More

      CDN Setup कर Blog की Speed बढ़ाये- Technology Hindi Solution

      November 01, 2018 0

      I am parthik Thakur 

      welcome to Technology solutions website

      CDN(content devilry network) का goal होता है user को fast content delivery करना.CloudFlare Free CDN का use करके आप easily अपने WordPress blog पर content delivery network active कर सकते है. And अपने blog की speed बढ़ा सकते है.


      CloudFlare Free CDN को active करने के लिए बस आपको अपने name servers को replace करना पढता है and CDN automatically आपके blog की speed बढ़ा देता है,this also improve ySlow grade of your blog.

      CDN(Content Delivery Network) क्या है ?

      Content delivery network के data center अलग – अलग geographical location पर होते हैं और जब आपकी site एक CDN network use कराती है, और कोई reader आपकी site खोलता है तो आप जो CDN network use करते है, उसके nearest data center से आपके files (images, static files) serve किये जाते हैं. यह ping, latency को कम करता है और इस तरह से आपकी site तेजी से load होती है.


        CloudFlare Free CDN Work कैसे करता है ?

        आप नीचे दिए गए image के through समझ सकते है की CDN कैसे work करता है.
        Protect CloudFlare hindi

        अपने Blog/Website पर CloudFlare Free CDN कैसे Active करे

        Website/Blog पर Free CDN enable करने के लिए,नीचे दिए गए steps को follow करे –
        • आपके पास CloudFlare का Account होना चाहिए,अगर नहीं है तो आप cloudflare.com पर जाकर register करे.
        • CloudFlare account में अपने website/blog को add करे.
        • 60 second DNS testing के बाद,वह आपसे missing DNS record को add करने को कहेगा.
        • आप missing DNS record को find करने के लिए अपने cPanel > Advanced DNS records visit करे
        DNS records in cPanel hindi
        • Missing DNS record find करे and उसे अपने CloudFlare account के DNS setting में add कर दे.
        • Missing DNS add करने के बाद ‘I’ve added all missing records’ button पर click करे.
        • CloudFlare account के लिए price choose करे.मेरे ख्याल से आप FREE account ही choose करे.And उसके बाद ‘Continue’ button पर click करे.
        The web performance security company Hindi
        • Now,जहाँ से अपने domain name ख़रीदा हो,उस account में जाये and Cloudflare के द्वारा दिया गया name server के साथ अपने name server replace करे.
        CloudFlare Custom Nameservers hindi

        Thats it,Name server update करने के बाद 24 hours wait करे,इसके बाद automatically आपके blog पे cloudflare enable हो जायेगा.आप Gtmetrix का use करके अपनी blog की speed test कर सकते है.

        Cloudflare CDN WordPress पर कैसे Set करे

        CloudFlare WordPress Plugin Configuration hindi
        • Cloudflare API key enter करे and जो email Id आपने Cloudflare sign up करने के लिए use किया था उसे enter करे.
        अगर Cloudflare plugin का use नहीं करते तब भी आपके blog पर CDN enable रहेगा, But इस plugin के use से आपके blog की security and IP address correct रहेगा.

        So,Friend मैंने इस article के through Fast तरीके से आपको To the point step by step बताया है की Cloudflare Free CDN अपने Blog पर कैसे active कर सकते है.अगर आपको कोई error और problem हो तो आप comment के through पूछ सकते है.


        Thanks for reading. I hope you liked it. Please share in social media and give feedback in comments
        Read More

        Best Adsense Approval Tips Guide in Hindi

        November 01, 2018 0

        Do you want to know how to get started with google adsense hindi?

                            


        आपके मन में Adsense से जुडी ये साधारण प्रश्न तो हमेशा उठते होंगे?
        How to make money with adsense Hindi?
        Adsense के लिए कैसे Apply करें?
        क्या मेरा  Website Adsense Approve करेगा या नहीं?
        क्या मेरे Blog को अभी Adsense के लिए Apply करना चाहिए या नहीं?
        Google Adsense से Approval पाने के लिए क्या-क्या ज़रूरी है?
        Google Adsense ने मेरा Application क्यों Reject किया?
        अगर मेरा Blog Adsense Reject कर देता है तो मुझे क्या करना चाहिए?
        नमस्कार दोस्तों ! क्या आप Adsense की मदद से अपने Website पर पैसे कमाना चाहते हैं और अपने सपनों को पूरा करना भी चाहते हैं? क्यों नहीं दोस्तों यह पूरी तरीके से संभव है अगर आप जान लें कि Adsense से Approval पाने के लिए क्या करें और क्या नहीं ! हर किसी Blogger का यह सपना होता है की उसका Adsense Approve हो जाये और वह अपने Website या Blog से कुछ पैसे कमा सके। लेकिन ! इससे पहले में आपको कुछ जरूरी बातें बताना चाहता हूँ।
        सबसे पहली बात जो में आपसे बताना चाहता हूँ वो ये है कि Google Adsense से पैसे कामने के लिए आपको Adsense के Active Approved Account की ज़रुरत है और उसे पाना उतना आसान नहीं जितना आप सोच रहें हैं। Google Adsense नए Apply किये हुए Application को बहुत ही कड़े रूप से देखने के बाद ही Approve करता है।
        चिंता मत करिए ! इस पोस्ट के पुरे पड़ने के बाद आपकी यह चिंता पूरी तरीके से दूर हो जाएगी।
                                                                      
                                                                एडसेंस खता खोलें 1 दिन में 

        इन्टरनेट पर Google Adsense सबसे Best क्यों है?

        What is Adsense Hindi ? What is google adsense and how does it works hindi? Google ads sign in? 
        Google Adsense दुनिया की सबसे बड़ी और पुरानी PPC(Pay Per Click) System पर चलने वाली Advertise Publishing कंपनी है। इसके Ads सबसे बेहतरीन होते हैं क्योंकि वे Website के Keyword और Website के Visitors की पसंद के अनुसार चलते हैं।
        Adsense से हम बहुत पैसे कमा सकते हैं बस हमको इसका सही तरीके से उपयोग करना आना चाहिए। विश्व में ऐसे कई Blogger हैं जो अपने जिंदगी के सभी सपनों को पूरा कर चुके हैं Adsense के माध्यम से।
        Adsense अन्य Advertising कंपनियों से ज्यादा पैसे देता है जो इसकी सबसे बड़ी खासियत है। हर कोई इंसान Adsense Approval के लिए हड़बड़ी में है पर हर बार गलतियोँ की वजह से उन्हें Adsense से Rejection मिल रहा है। पहले हमें समझना पड़ेगा कि Google Adsense को भेजे हुए Application Reject क्यों होते हैं।

        Google Adsense पर Apply किये हुए Application Reject क्यों होते हैं?

        निचे हमने कुछ महत्पूर्ण Points बताये हैं जिनके कारण Google Adsense पर Apply किये हुए Application Reject किये जाते हैं – google adsense alternatives

        #1 Privacy Policy, About Us और Contact Us Page वेबसाइट पर ना होना

        सबसे पहले का Website पर Privacy Policy, About Us और Contact Us Page का होना बहुत ही आवश्यक है।
        Privacy Policy पृष्ट पर आप अपने Website के Users को अपने website के उपयोग से संबंधी Policy या Terms of Use के विषय में समझा सकते हैं।
        About Us पृष्ट में आप अपने Website के विषय में बता सकते हैं जैसे की आप कौन हैं, आपके Website से लोग को क्या सुविधा मिलेगा।
        Contact Us पृष्ट में आप अपने Contact Details डाल सकते हैं जैसे आपका ईमेल पता, घर का पता या Telephone नंबर।
        यह Google Adsense के Policy के अनुसार सबसे आवश्यक है। Google Adsense in तीनों Page से ही जान जाता है कि यह Blogger या Website Owner सही रूप में प्रोफेशनल है या नहीं। अगर ये तीनों Page आपके Website पर नहीं हैं और आप Adsense के लिए Apply करेंगे तो सबसे पहला कारण यही होगा Rejection का।

        #2 Website पर फालतू या आधा-अधुरा Content होना

        जी हाँ यह बात पूरी तरीके से सही है। अगर आपका Website नया है और उसमें किसी भी प्रकार का सर्च किया हुआ Visits (Organic Traffic) ना हो, Website नया हो जिसमें 1-2 पोस्ट हों कम Visits वाले, उल्टी सीधी जानकारी हो जिसका कोई मतलब ना निकलता हो, Website के Loading लेते समय मुश्किल हो तो Website का Application Reject कर दिया जाता है क्योंकि ये Adsense के नियमों के खिलाफ है।
        इसलिए आपको पूरी जानकारी की ज़रुरत है कि Adsense से Approval पाने के लिए क्या करें और क्या नहीं?

        #3 Copy किया हुआ Content

        बहुत सारे लोग अभी भी नहीं जानते की Blogging किस चीज को कहते हैं। वे दूसरों की Website से Copy करके अपने  Website पर Paste कर देते हैं और उन्हें Blog Post कहते हैं। जी नहीं! इसे ब्लॉग्गिंग नहीं कहते यह पूरी तरीके से illegal है। Google ऐसे मामलों मैं बहुत Strict है। Copy करने वाले Website को Google Adsense Approval तो नहीं उन्हें Banned ज़रूर कर देती है। इसलिए हमेशा अपने स्वयं के लिखे हुए Post ही Publish करें।

        एडसेंस खता खोलें 1 दिन में Best Adsense Approval Tips 

        #4 High-Quality पोस्ट लिखें

        Google Adsense का Approval पाने के लिए सबसे ज़रूरी है आपका Post या Content बहुत ही अच्छा होना चाहिए। एक अच्छे Post के कुछ गुण होते हैं जैसे – Post का Heading सही होना चाहिए, Content अच्छा होने के साथ-साथ समझमें आना चाहिए और आपके Website के Category के अनुसार होना चाहिए। साथ ही लिखा हुआ Post किसी दुसरे Website से Copy किया हुआ नहीं होना चाहिए, Post पूरा होना चाहिए आधा-अधुरा नहीं होना चाहिए, हर कोई Post कम से कम 700-1000 सही व्याकरण वाले Word या शब्द होने चाहिए।

        #5 अपने नाम और ईमेल पते को Website के किसी भी Tab दर्शायें

        Google Adsense पर Apply करने से पहले अपने Website के नीचे के Tabs या Right/Left Tab में अपना नाम और ईमेल पता लिखना ना भूलें क्योंकि इससे Approval जल्द से जल्द होता है। इससे Adsense को यह मालूम चलता है कि सही में यह Website Apply किये हुए व्यक्ति का है भी या नहीं। अगर आपका नाम का पता आपकी Website पर आसानी से Adsense की Team को ना दिखा तो वे Spam Application समझ कर आपके Adsense Application को Reject भी कर सकते हैं।

        #6 Google Adsense पैसे दिए हुए Traffic को अच्छा नहीं मानता

        कुछ लोग अपने Website को जल्द से जल्द Adsense Application को Approve कराने के लिए अपने Website पर Fake Traffic खरीद कर लाते हैं। ऐसे Website को Approval तो नहीं पर Google दंडित भी करता है। जैसे की हम पहले भी आपको बता चुके हैं Google Adsense – Search Traffic, Social Media Traffic, और दुसरे Blogs से आये हुए Traffic पसंद करता है।

        #7 दुसरे Ads Network के Advertisement हटायें

        हलाकि Google Adsense दुसरे Reputed Ad Network जैसे (Chitika, Infolinks) को अपने Ads के साथ Publish करने को Allow करता है परन्तु Adsense के Application दिए हुए समय पर सभी Ad Network के Ads हटा दें।

        #8 अपने Website के लिए Top-level Domain खरीदें

        अपने Website के लिए एक अच्छा से Domain खरीदें। Domain ऐसा होना चाहिए जो आपके Website के Content को Domain के नाम से ही समझा देता हो।
        अगर आपका Website Blogger पर है तो आपका Domain कुछ इस प्रकार का होता है,वेबसाइटकानाम.blogspot.com इन Website को Google Adsense का Approval Top-level Domain के बिना भी मिल सकता है पर अगर आपका Website अगर किसी दुसरे Hosting साईट पर Hosted है तो Top-level Domain बहुत ही जरूरी है।

        #9 आपका Website किस प्रकार का है

        आपका Website किस Topic पर है यह बहुत ज्यादा मायने रखता है Adsense Approval के लिए। Adsense किस प्रकार के Content वाले Website को Approve नहीं करता – चोरी किये हुए Content वाले Website को, Porn या Adult Websites, Hacking या Illegal Tricks वाले website, या Adsense की चुनी हुई भाषा Support ना करने के कारण।
        1.  WordPress क्या है? -Technology Hindi solution
        2.   WordPress.com और WordPress.org में क्या है - Technology Hindi solution
        3.  WordPress के लिए Privacy Policy Page कैसे बनाएं - TechnologyHindi solution
        4.  WordPress Blog पर AMP keise  Set kare in hindi -Technology Hindi solution
        5.  WordPress के लिए Right Web Hosting Choose कर ? Technology Hindi solution
        6. CDN Setup कर Blog की Speed बढ़ाये -Technology Hindi solution


        Google Adsense सपोर्ट करने वाली भाषाएँ (एडसेंस खता खोलें 1 दिन में Best Adsense Approval Tips Guide Hindi)


        #10 Blog के Design से जुडी कुछ बातें

        Adsense Approval के लिए Blog के Content के साथ-साथ उसके Design के भी बहुत योगदान होता है। इसके लिए कुछ ध्यान देने की बातें हैं जैसे – सभी Category के नाम होने चाहिए, चलाने में आसानी हो, Page Speed अच्छा हो या जल्दी से खुले।

        #11 आपकी उम्र 18 साल या उससे ज्यादा होनी चाहिए

        Adsense 18 साल से कम उम्र वाले लोगों के लिए नहीं है। गलती से भी Adsense में Apply करते समय अपना गलत उम्र या जन्म तिथि ना लिखें। सही उम्र आने पर Adsense Account के लिए अवेदन डालें।

        आखरी में कुछ बातें :

        Google Adsense का Application उतना भी मुश्किल नहीं है Approve होना अगर आपके Website in दिए हुए Points को सही रूप से कायम करे तो क्योंकि Adsense यहीं चीजें अपने हर एक Apply करने वाले Publisher के Website में देखना चाहती है।


        ज़रूर पढ़िए:

        Thanks for reading. I hope you liked it. Please share in social media and give feedback in comments
        Read More