Click here to the Cookie consent Technology Hindi Solution: Business and Finance Archive

आपको यहॉ Computer Course all book ,Computer Tricks, Computer Learning, Blogging Tricks,Seo Tips, Internet, SmatPhone, Facebook, Android, Computer Etc Tips And Tricks, Best How To Article trick, Ms Word, Ms Excel, Technology News, Learn Hindi Typing, Google Seo trick,hacking trick,computers hacking ,mobile hacking ,hacking tools use ,Technology ,nono Technology , Facebook,tech news, सब कुछ आपको हिंदी में मिलेगा जो आपके कम्प्यूटर ज्ञान को बढाने में सहायक हो सकते हैं

New Post

Showing posts with label Business and Finance Archive. Show all posts
Showing posts with label Business and Finance Archive. Show all posts

Wednesday, July 10, 2019

सरकार दे रही है ।। बिना पेट्रोल लंबी दूरी की यात्रा -Technology hindi soluion

July 10, 2019 0

सरकार दे रही है ।। बिना पेट्रोल लंबी दूरी की यात्रा

इंसान होने के नाते पर्यावरण के प्रति हमारी जिम्मेदारी है कि हम आने वाली पीढ़ी के लिए एक स्वच्छ, सुंदर और प्रदूषण मुक्त वातावरण दें। शहरों में बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए इलेक्ट्रिक व्हीकल (EV) की मांग तेजी से बढ़ रही है। ऐसे में Hyundai जैसी बड़ी ऑटोमोबाइल कंपनियां पूरी सक्रियता के साथ काम कर रही हैं। बता दें कि कंपनी जुलाई महीने में Hyundai KONA नाम से पहली फुली इलेक्ट्रिक SUV भारत में लॉन्च करने जा रही है। आइए जानते हैं कि आज के दौर में इलेक्ट्रिक व्हीकल हमारे लिए क्यों फायदेमंद है?
सरकार दे रही है ।। बिना पेट्रोल लंबी दूरी की यात्रा -Technology hindi soluion
Images may be subject to copyright.


                     
इलेक्ट्रिक व्हीकल की परफॉर्मेंस जबरदस्त

कोई भी कार आपके लिए अच्छी है या नहीं, उसकी परफॉर्मेंस से पता चलता है। अब सवाल यह उठता है कि हाईवे और सिटी में इलेक्ट्रिक व्हीकल की परफॉर्मेंस कैसी है? बता दें कि इलेक्ट्रिक व्हीकल्स हाई पावर और अत्यधिक कुशल इलेक्ट्रिक मोटर द्वारा संचालित होते हैं। बात अगर Hyundai KONA की एडवांस इलेक्ट्रिक टेक्नोलॉजी की करें तो यह पावरफुल परफॉर्मेंस के लिए जानी जाती है। यह 0 से 100 किलोमीटर की रफ्तार सिर्फ 9.7 सेकंड्स में पकड़ लेगी, जो परफॉर्मेंस के लिहाज से बेहतर है और ड्राइविंग को मजेदार बनाएगी।
                   सरकार दे रही है EV के इस्तेमाल को बढ़ावा
सरकार EV को लेकर पूरी तरह से गंभीर है, ताकि लोग पेट्रोल और डीजल से चलने वाली गाड़ियों का इस्तेमाल कम से कम करें। वह अपने स्तर पर लोगों की सहायता भी कर रही है। लोगों को EV चलाने में भरपूर सहूलियत और लाभ मिले इसके लिए देश के कुछ राज्यों ने अपने नीतियों को अंतिम रूप दे दिया है। दिल्ली सरकार की योजना हर तीन किमी पर चार्जिंग स्टेशन बनाने और साथ ही साथ प्राइवेट चार्जिंग स्टेशन बनाने के लिए सब्सिडी देने की भी है। दिल्ली सरकार सब्सिडी के साथ-साथ सभी कैटेगरी में रोड टैक्स, रजिस्ट्रेशन फीस माफ जैसे फायदे देने पर विचार कर रही है। वहीं, ऊर्जा मंत्रालय ने 2023 तक चार्जिंग इन्फ्रा सेटअप योजना की घोषणा कर दी है। इसके अलावा कई निजी कंपनियां इसको लेकर पायलट प्रोजेक्ट पर काम भी कर रही हैं और लोग ज्यादा से ज्यादा इसका इस्तेमाल करें इसके लिए संभावनाएं भी तलाश रही हैं।

                             बिना पेट्रोल लंबी दूरी की यात्रा करें

इलेक्ट्रिक व्हीकल का इस्तेमाल करना ठीक वैसा ही है जैसे आप फोन का इस्तेमाल करते हैं। एक बार फुल चार्ज करने के बाद आप कहीं भी हों आपको समस्या नहीं आएगी। वैसे चार्जिंग की समस्या न हो इसके लिए Hyundai ने भी अपनी कार KONA में कई बेहतरीन फीचर्स दिए हैं। यह दो वर्जन (39.2kWhऔर 64kWh) में उपलब्ध है। 39.2kWh की बैटरी वाले वर्जन को फुल चार्ज करने पर 452किलोमीटर की रेंज मिलेगी। वहीं 64kWh की बैटरी वाले वर्जन को एक बार चार्ज करने पर 480ज्यादा किलोमीटर की रेंज मिलेगी। इसके अलावा आप इसकी बैटरी को आसानी से घर पर चार्ज कर सकेंगे। इसमें आपको इंडस्ट्री की सबसे अच्छी EV बैटरी मिलेगी, जो एडवांस सेफ्टी प्रोटेक्शन मैकेनिज्म से लैस होगी।
Hyundai KONA भारत में उपलब्ध अन्य इलेक्ट्रिक व्हीकल्स की तुलना में बेहतर बैटरी टेक्नोलॉजी और कुशल पावर ट्रेन सिस्टम से लैस होगी। इलेक्ट्रिक व्हीकल्स को लेकर आम तौर पर लोगों में सबसे बड़ा डर बैटरी की लाइफ को लेकर होता है, लेकिन KONA EV के साथ ऐसा नहीं है। इसमें लंबे समय तक चलने वाली बैटरी दी जाएगी, जिससे आप लंबी दूरी की यात्रा को आसानी से तय कर सकते हैं। यदि आप KONA के 39.2kWh बैटरी वाले वर्जन को फुल चार्ज करेंगे, तो यह 452किलोमीटर की रेंज देगी यानी इतनी दूरी तय करेगी। इसकी बैटरी फास्ट चार्जिंग को सपोर्ट करेगी और इसे 54 मिनट में 80 प्रतिशत तक DC फास्ट चार्जर के जरिए चार्ज किया जा सकेगा। वहीं यदि आप AC चार्जर के जरिए इलेक्ट्रिक गाड़ी को चार्ज करते हैं तो पूरा चार्ज होने में करीब 6 घंटे का समय लग सकता है।

                           मेंटेनेंस पर बहुत कम खर्चा

पेट्रोल-डीजल से चलने वाले वाहनों की तुलना में इलेक्ट्रिक व्हीकल्स की लागत दो से ढाई गुना अधिक होती है। हालांकि, जब आप इसे खरीदकर घर लाते हैं, तो इसका रनिंग और मेंटेनेंस कॉस्ट पारंपरिक वाहनों की तुलना में करीब एक-चौथाई ही होता है, अर्थात इसकी मेंटेनेंस लागत काफी कम होता है।
                         सुरक्षा मानकों पर खरी उतरे
यदि कोई इलेक्ट्रिक व्हीकल चलाएगा तो उसके दिमाग में सुरक्षा का सवाल सबसे पहले आएगा। चाहे बात इलेक्ट्रिक शॉक की हो या फिर रासायनिक रिसाव की, EV चलाना पूरी तरह से सेफ है। वैसे सेफ्टी के मामले में Hyundai का स्कोर हमेशा ही अच्छा रहा है। यह बात इलेक्ट्रिक व्हीकल Hyundai KONA के साथ भी लागू होती है। इस कार में इंडस्ट्री की सबसे अच्छी EV बैटरी दी गई है, जो एडवांस प्रोटेक्शन मैकेनिज्म से लैस है। प्रतिकूल मौसम में इसे ड्राइव करना काफी सुरक्षित होगा।
                                 इलेक्ट्रिक व्हीकल का डिजाइन
कार खरीदते समय सबसे पहले हम उसके डिजाइन से प्रभावित होते हैं। कार का फ्रंट, रियर, साइड प्रोफाइल और इंटीरियर कैसा है, कार खरीदते समय हम जरूर ध्यान देते हैं। वैसे आजकल कई इलेक्ट्रिक व्हीकल में भी आपको कई बेहतरीन डिजाइन देखने को मिलते हैं। अब आप Hyundai KONA को ही ले लीजिए। यह एक SUV डिजाइन कार है, जो दिखने में बहुत ही एट्रैक्टिव लगती है। इसका डिजाइन अर्बन, स्टाइलिस्ट और फ्यूचरिस्टिक है। इसमें मॉर्डन कारों में दिए जाने वाले तमाम फीचर्स मिलेंगे। इसका अनोखा फ्रंट ग्रिल, हाई टेक फीचर्स और बोल्ड डिजाइन इसे एक बेहतरीन इलेक्ट्रिक व्हीकल बनाते हैं।
तकनीकी तौर पर हम भले ही विकसित हो रहे हैं, लेकिन पर्यावरण को लेकर अब हमें संवेदनशीलता दिखानी होगी, ताकि भविष्य में आने वाली पीढ़ी को एक प्रदूषण मुक्त वातावरण मिल सके और इसमें इलेक्ट्रिक गाड़ियां काफी योगदान दे सकती हैं। यह न केवल सुरक्षित हैं, बल्कि पारंपरिक गाड़ियों के मुकाबले इसका मेंटेनेंस खर्चा भी बहुत कम है। साथ ही, सरकार का भी इसमें पूरा सपोर्ट है।
Read More

Tuesday, June 25, 2019

क्या आप जानते है ? घर के उपकरण कितने वाट्स का होता है ? Do you know ? ( How many watts are home appliances ?)

June 25, 2019 0

क्या आप जानते है  ? घर के उपकरण कितने वाट्स का होता है ? 

इसके बाद 21वीं शताब्दी 18 साल का हो जाएगा। इस शताब्दी ने अपने 17 साल के अब तक के जीवनकाल में ही हमें इतना कुछ दे दिया है जिसके बारे में कल्पना करना भी नामुमकिन था। इस शताब्दी ने हमें एक से बढ़कर एक ऐसे-ऐसे आधुनिक इलेक्ट्रिक उपकरण दिया है जिससे हमारी जिन्दगी काफी आसान हो गई है।
क्या आप जानते है  ? घर के उपकरण कितने वाट्स का होता है ? Do you know ? ( How many watts are home appliances ?)
क्या आप जानते है  ? घर के उपकरण कितने वाट्स का होता है ? Do you know ? ( How many watts are home appliances ?)

20वीं सदी में हर किसी के पास बिजली की पहुँच नहीं हुआ करती थी। लेकिन जैसे ही शताब्दी में परिवर्तन हुई, बिजली की पहुँच सभी गाँव में, सभी घर और सभी लोगों तक हो गई। इसी सदी ने हमें अति विकसित मोबाइल स्मार्टफोन भी दिया है। वर्तमान समय में हर किसी के घर में बिजली का कनेक्शन लिया हुआ है और लगभग सभी लोग इसका इस्तेमाल करने लगे हैं।
आपने भी अपने घर में बिजली का कनेक्शन जरूर लिया होगा और आप इस पर बहुत प्रकार के उपकरणों का इस्तेमाल भी करते होंगे। लेकिन क्या आप जानते हैं कि आप अपने घर में जिन-जिन उपकरणों का इस्तेमाल करते हैं वो उपकरण कितने वाट का होता है? क्या आप जानते हैं कि आपके घर में इस्तेमाल होने वाले उपकरण बिजली की कितनी खपत करते हैं? क्या आप जानते हैं कि आपके घर में इस्तेमाल होने वाले किन उपकरणों का इस्तेमाल सस्ता पड़ता है और किनका इस्तेमाल महंगा पड़ता है?
हालांकि किसी भी इलेक्ट्रिक उपकरणों पर उनके वाटेज कैपेसिटी लिखे होते हैं। लेकिन आज हम आपको एक ही पोस्ट में आपके घर में इस्तेमाल होने वाले सभी इलेक्ट्रिक उपकरणों के वाटेज क्षमता के बारे में हिंदी में बताने जा रहे हैं। आपके घर में इस्तेमाल होने वाले लगभग सभी उपकरणों के वाटेज कैपेसिटी आप इस पोस्ट में हिंदी भाषा में जान सकते हैं।

1) Electric Bulb power consumption: बल्ब कितने वाट का होता है ?

बिजली आने से पहले हरेक घरों में अँधेरा होने पर रात को दीया और लालटेन जलाया जाता था। लेकिन बिजली आने के बाद अब सभी घरों में इलेक्ट्रिक बल्ब जलाया जाने लगा है। पहले बिजली कट जाने के बाद तो कम-से-कम लोग दीया या लालटेन जला लिया करते थे लेकिन आज के समय में टेक्नोलॉजी ने हमें इतना कुछ दे दिया है कि अब बिजली कट जाने के बाद भी लोगों को लालटेन जलाने की जरूरत नहीं पड़ती है। आधुनिक इमरजेंसी लाइट की मदद से लोग बिजली कट जाने के बाद भी तेज प्रकाश में घर को उजाला रख सकते हैं।
लेकिन क्या आप जानते हैं कि इलेक्ट्रिक बल्ब कितने वाट का होता है? हरेक बल्ब के ऊपर या उसके कवर पर उसका वाटेज लिखा होता है। पुराने समय में थॉमस ऐल्वा एडीसन के आविष्कार किये गए 6-10 RS में आने वाला बल्ब जिसका प्रकाश पीला होता था वो 100W (100 वाट) का होता था। 100w का बल्ब होने की वजह से ये बिजली की बहुत ज्यादा खपत करता था।
लेकिन आज के समय में उजला प्रकाश करने वाले बहुत सारे CFL और LED बल्ब आ चुके हैं जो थोड़े महंगे जरूर होते हैं लेकिन उनके इस्तेमाल से हमारे बिजली बिल में भारी बचत होती है। छोटे से लेकर बड़े-बड़े हॉल तक में इस्तेमाल करने के लिए 5 वाट से लेकर सैकड़ों वाट तक के led bulb का निर्माण किया जा चुका है। लेकिन आमतौर पर हमारे घरों में इस्तेमाल होने वाले एलईडी बल्ब 5 वाट, 7 वाट, 9 वाट, 14 वाट तक के ही होते हैं।

2) Electric Fan power consumption: बिजली का पंखा कितने वाट का होता है?

इलेक्ट्रिक पंखा का इस्तेमाल गर्मियों के दिनों में ठंडक पाने के लिए किया जाता है। बल्ब के बाद ये दूसरा इलेक्ट्रिक उपकरण है जिसका इस्तेमाल हरेक घरों में किया जाता है। इलेक्ट्रिक फैन 3 प्रकार का होता है।

a) Ceiling fan power consumption: सीलिंग फेन कितने वाट का होता है?

जिस पंखे को छत से लटकाया जाता है उसे सीलिंग फैन कहते हैं। हमारे घरों में इस्तेमाल होने वाला एक सामान्य सीलिंग पंखा 65W से लेकर 75W तक का होता है।

b) Stand fan power consumption: स्टैंड फेन कितने वाट का होता है?

जिस पंखे को जमीन पर रखकर इस्तेमाल किया जाता है उसे स्टैंड फैन कहते हैं। एक सामान्य स्टैंड पंखा भी 65 वाट से 75 वाट तक का हो सकता है।

c) Table fan power consumption: टेबल फेन कितने वाट का होता है?

टेबल फेन सबसे छोटा एसी फैन होता है जिसे शरीर के लेवल पर रखा जाता है। टेबल पंखा 30w से लेकर ज्यादा वाट तक का हो सकता है। 

3) Mobile Charger power consumption: मोबाइल का चार्जर कितने वाट्स का होता है?

आज से कुछ साल पहले तक स्मार्टफोन की जानकारी हर किसी को नहीं थी। स्मार्टफोन से पहले लोग सिंपल मोबाइल फोन का ही इस्तेमाल करते थे। लेकिन आज के समय में हर किसी के पास स्मार्टफोन नहीं तो कम-से-कम एक सिंपल मोबाइल फ़ोन जरूर होगा। साथ ही हरेक मोबाइल को चार्ज करने के लिए उनके पास मोबाइल का चार्जर भी जरूर होगा। सिंपल मोबाइल का चार्जर 5 वाट्स तक का होता है लेकिन ब्रांडेड मोबाइल या स्मार्टफोन का चार्जर 5 वाट से भी कम वाट का हो सकता है।

4) Good Knight Machine power consumption: गुड नाईट मशीन कितने वाट्स का होता है?

गुड नाइट मशीन एक छोटा-सा यन्त्र है जो इतना छोटा होता है कि जेब में भी समा सकता है। मच्छर को भगाने के लिए गुड नाइट मशीन का इस्तेमाल किया जाता है। ये मशीन एक जहरीली लिक्विड के साथ काम करता है जो सिर्फ मच्छर या उसके जैसे ही कुछ छोटे-मोटे जीव के लिए नुकसानदायक होता है। गुड नाइट मशीन 10 वाट्स तक का होता है। एक बात का ध्यान रहे कि गुड नाइट एक कंपनी का नाम है और इसका मशीन ज्यादा प्रसिद्द है। नहीं तो और भी कंपनी मच्छर भगाने वाली मशीन बनाती है।

5) Electric Iron power consumption: इलेक्ट्रिक आयरन कितने वाट का होता है?

इलेक्ट्रिक आयरन का इस्तेमाल कपडे को प्रेस करने के लिए किया जाता है। हालांकि आमतौर पर इसका इस्तेमाल अभी भी सभी घरों में नहीं होता है लेकिन आने वाले समय में लगभग सभी घरों में इसका इस्तेमाल जरूर होगा। इलेक्ट्रिक आयरन 2 प्रकार का होता है।

a) Automatic iron: आटोमेटिक आयरन कितने वाट का होता है?

यदि बिजली का वोल्टेज कम होगा तो आयरन कम गर्म होगा लेकिन यदि बिजली का वोल्टेज ज्यादा होगा तो आयरन भी ज्यादा गर्म होगा। लेकिन यदि इलेक्ट्रिक आयरन हद से ज्यादा गर्म हो जायेगा तो कपडा भी जल जायेगा। आटोमेटिक आयरन की खूबी यही है कि जब आयरन हद से ज्यादा गर्म होने लगता है तो ये आटोमेटिक रूप से बंद हो जाता है जिससे कपडे को कोई नुकसान नहीं पहुँचता है। एक सामान्य आटोमेटिक आयरन 500W, 750W और 1000W का होता है।

b) Non Automatic Iron power consumption: नॉन आटोमेटिक आयरन कितने वाट का होता है?

जरूरत से ज्यादा गर्म हो जाने पर जो इलेक्ट्रिक आयरन खुद से बंद नहीं होता है उसे नॉन-आटोमेटिक आयरन कहा जाता है। एक सामान्य नॉन-आटोमेटिक आयरन 250 वाट्स से लेकर 500 वाट्स तक का हो सकता है।

6) Television power consumption: टेलीविज़न कितने वाट्स का होता है?

टेलीविज़न का इस्तेमाल फिल्म देखने और गाना सुनने के लिए किया जाता है। हालांकि ये सभी घरों में देखने को नहीं मिलता है लेकिन फिर भी ये एक बहुत ही प्रसिद्द इलेक्ट्रिक उपकरण है। टेलीविज़न को संक्षिप्त रूप में टीवी भी कहा जाता है। टेलीविज़न मुख्य रूप से 2 प्रकार का होता है।

a) Colour Television: रंगीन टीवी कितने वाट्स का होता है?

रंगीन टेलीविज़न में किसी भी विडियो को सभी प्राकृतिक रंगों के साथ देखा जा सकता है। कलर टेलीविज़न मार्केट में विभिन्न आकार में उपलब्ध है। इनमें से 14 इंच, 19 इंच, 21 इंच और 24 इंच के टेलीविज़न सबसे ज्यादा प्रसिद्ध रहे हैं। एक कलर टीवी 65 वाट्स से लेकर ज्यादा वाट्स तक हो सकता है।

b) Black White Television: सादा टीवी कितने वाट्स का होता है?

पुराने ज़माने में जब सबसे पहले टेलीविज़न आया था तो उस समय उस पर सादा विडियो ही देखा जा सकता था। ऐसा इसलिए क्योंकि उस समय का विज्ञान आज के जितना उन्नत नहीं था जिस वजह से कलर टीवी एक कल्पना मात्र था। एक सादा टेलीविज़न 35 वाट्स से लेकर ज्यादा वाट्स तक का हो सकता है।

7) LED TV power consumption: एलईडी टीवी कितने वाट्स का होता है?

एलईडी टीवी, टेलीविज़न का ही एक विकसित रूप है जो टेलीविज़न के तुलना में बहुत हल्का होता है और साथ ही इसका रख-रखाव भी बहुत आसान होता है। इतना ही नहीं, एलईडी टीवी में टेलीविज़न के मुकाबले कुछ एडवांस विकल्प भी मिलते हैं। ये भी कलर टेलीविज़न के तरह ही 14 इंच, 19 इंच, 21 इंच और 24 इंच का होता है। एक एलईडी टीवी 50 वाट्स से लेकर अधिकतम वाट्स तक हो सकते हैं।

8) DTH power consumption: डीटीएच कितने वाट्स का होता है?

Dth एक ऐसा उपकरण है जो सेटेलाईट द्वारा छोड़े जा रहे सिग्नल को पकड़कर उस पर प्रसारित किए जा रहे चैनल हमें टेलीविज़न या एलईडी टीवी पर दिखाता है। डीटीएच को डिश टीवी और सेट-टॉप-बॉक्स के नाम से भी जाना जाता है। एक सामान्य डीटीएच 8 वाट से 25 वाट तक होता है।

9) DVD Player power consumption: डीवीडी प्लेयर कितने वाट्स का होता है?

डीवीडी प्लेयर में डीवीडी या वीसीडी कैसेट डिस्क लगाकर उसमें चल रहे विडियो या ऑडियो फाइल को टेलीविज़न पर देखा और सुना जाता है। आज से कुछ साल पहले तक लोगों के घर में डीवीडी प्लेयर के माध्यम से ही फिल्म देखा जाता था लेकिन डीटीएच के आ जाने के बाद इसका इस्तेमाल अब कम होने लगा है। एक सामान्य डीवीडी प्लेयर 15 वाट से अधिकतम वाट्स तक का हो सकता है 

10) VCD Player: वीसीडी प्लेयर कितने वाट्स का होता है?

वीसीडी प्लेयर में सिर्फ वीसीडी कैसेट डिस्क को ही प्ले किया जा सकता है। देखने में ये भी डीवीडी प्लेयर जैसा ही लगता है लेकिन दोनों के कैपेसिटी और परफॉरमेंस में अंतर होता है। वीसीडी में प्ले हो रहे विडियो को भी टेलीविज़न या एलईडी टीवी पर देखा जा सकता है। वीसीडी प्लेयर भी डीवीडी प्लेयर के जितना अर्थात 15 से अधिकतम वाट्स का होता है।

11) Home Theater power consumption: होम थिएटर कितने वाट्स का होता है?

वैसे तो आजकल मोबाइल और स्मार्टफोन में ही पूरी दुनिया के मनोरंजन समा चुके हैं लेकिन होम थिएटर का जलवा आज भी उसी तरह से बरकरार है जिस तरह से पहले था। होम थिएटर में लोग Mp3 गाने को मधुर आवाज में और डीजे की धुन पर सुन सकते हैं। हालांकि होम थिएटर बहुत तरह का आता है। एक सामान्य घरों में 2 एम्पेयर ट्रांसफार्मर वाले होम थिएटर का इस्तेमाल अधिक तौर पर किया जाता है। एक साधारण होम थिएटर भी 100 वाट्स के हो सकते हैं।

12) Amplifier Machine power consumption: एम्पलीफायर बाजा कितने वाट्स का होता है?

एम्पलीफायर मशीन का इस्तेमाल भी गाना सुनने के लिए ही किया जाता है। लेकिन होम थिएटर की तरह एम्पलीफायर में dj की धुन में गाना नहीं सुना जा सकता है। हालांकि सामान्य तौर पर हमारे घरों में इस्तेमाल किये जाने वाले एम्पलीफायर मशीन में भी ज्यादातर 2 एम्पेयर के ट्रांसफार्मर का ही इस्तेमाल किया जाता है। इस तरह का एम्पलीफायर मशीन भी 100 वाट्स का होता है।

13) Room Heater power consumption: रूम हीटर कितने वाट का होता है?

जिस तरह से गर्मियों में पंखे का इस्तेमाल किया जाता है ठीक उसी प्रकार से ठंडी के समय में भी अपने रूम के वातावरण को गर्म बनाने के लिए रूम हीटर का इस्तेमाल किया जाता है। रूम हीटर बहुत प्रकार का विभिन्न दामों में आता है। एक आम इंसान के घर में इस्तेमाल होने वाला रूम हीटर आमतौर पर 400 वाट से शुरू होता है और हजारों वाट तक आता है।

14) Mixer Grinder power consumption: मिक्सर ग्राइंडर कितने वाट का होता है?

मसाला पीसने के लिए और खाद्य पदार्थ का पेस्ट बनाने के लिए मिक्सर ग्राइंडर मशीन का इस्तेमाल किया जाता है। हालांकि महंगा होने के कारण अभी ये सभी आम लोगों तक नहीं पहुँच पाया है। एक सामान्य मिक्सर मशीन 500 वाट से शुरू होता है।

15) Hand Blender power consumption: हैण्ड ब्लेंडर कितने वाट का होता है?

हैण्ड ब्लेंडर भी एक तरह का मिक्सर ग्राइंडर जैसा ही यन्त्र होता है। हैण्ड ब्लेंडर से भी खाद्य-पदार्थ का पेस्ट बनाया जाता है और उनका मिश्रण किया जाता है। लेकिन इस यन्त्र का इस्तेमाल हाथ से किया जाता है जबकि मिक्सर ग्राइंडर का इस्तेमाल स्थिर रखकर किया जाता है। एक सिंपल हैण्ड ब्लेंडर 250 वाट से शुरू होता है।

16) Water Geyser/Heater: वाटर गीजर/हीटर कितने वाट का होता है?

Water heater power consumption: पानी को गर्म करने के लिए वाटर गीजर का इस्तेमाल किया जाता है। वाटर गीजर को वाटर हीटर के नाम से भी जाना जाता है। एक तो ये महंगा होता है और ऊपर ज्यादा वाट का होने की वजह से ज्यादा बिजली की खपत करता है जिस वजह से एक आम आदमी इसे खरीद नहीं सकते हैं। एक साधारण गीजर भी 500 वाट से चालू होता है।

17) Electric Stove power consumption: इलेक्ट्रिक चूल्हा कितने वाट का होता है?

जिस तरह से गैस के इस्तेमाल से गैस चूल्हा पर खाना बनाया जाता है ठीक उसी तरह से बिजली के इस्तेमाल से भी इलेक्ट्रिक चूल्हा पर खाना बनाया जाता है। इलेक्ट्रिक चूल्हा भी महंगा पड़ता है जिस वजह से ये अभी तक आम लोगों तक नहीं पहुँच पाया है। एक साधारण इलेक्ट्रिक चूल्हा भी 1200 वाट का होता है।

18) Domestic Refrigerator: घरेलू फ्रिज कितने वाट्स का होता है?

Domestic fridge power consumption: फ्रिज एक ऐसा उपकरण होता है जिसके अन्दर मनचाहे तापमान का कृत्रिम ठंडा वातावरण पैदा किया जाता है। इस कृत्रिम ठन्डे वातावरण में किसी भी खाद्य पदार्थ या पेय पदार्थ को रखने पर वो पदार्थ ठंडा हो जाता है और उसमें ताजगी बनी रहती है। एक घरेलू फ्रिज 100 वाट का भी होता है।

19) Washing Machine power consumption: वाशिंग मशीन कितने वाट का होता है?

कपडे साफ़ करने वाली मशीन को वाशिंग मशीन कहते हैं। एक साधारण वाशिंग मशीन 500 वाट का होता है।

20) Air Conditioner power consumption: एयर कंडीशनर (एसी) कितने वाट का होता है?

किसी भी बंद क्षेत्र को पूरी तरह से ठंडा बनाने के लिए एयर कंडीशनर का इस्तेमाल किया जाता है। सबसे छोटा एसी भी 500 वाट का होता है।

21) Fog Machine power consumption: फोग मशीन कितने वाट का होता है?

जिस तरह से गुड नाईट मशीन से मच्छर को भगाया जाता है ठीक उसी तरह से फोग मशीन से भी मच्छर को भगाया जाता है। लेकिन दोनों में सबसे बड़ा अंतर ये है कि गुड नाइट मशीन एक छोटे से रूम में प्रभाव डालता है जबकि फोग मशीन एक बहुत बड़े एरिया में अपना प्रभाव डालता है। इस मशीन से मच्छर से लेकर बहुत सारे छोटे-छोटे जीव से भी कम समय में छुटकारा पाया जा सकता है। हालांकि अभी ये मशीन नया है और महंगा भी है। एक सिंपल फोग मशीन भी 400 वाट का होता है और इससे ज्यादा हजारों वाट का भी होता है।
नोट:- इनमें से बहुत सारे उपकरणों के बारे में दी गई वाटेज की जानकारी इन्टरनेट से ली गई जानकारी के आधार पर है। इस पोस्ट में सभी उपकरणों के न्यूनतम वाटेज कैपेसिटी के बारे में बताया गया है।आपको हमारा ये पोस्ट कैसा लगा कमेंट करके हमें जरूर बताएं और यदि ये पोस्ट आपको पसंद आए तो सोशल मीडिया पर इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें और इस वेबसाइट को सब्सक्राइब करना भी न भूलें।
Read More

Wednesday, May 29, 2019

OTP Kya hai और OTP का Use क्यूँ किया जाता है - Technology hindi Solution

May 29, 2019 0

i am parthik thakur 

welcome to technogloy website

 OTP Kya hai  और OTP का Use क्यूँ किया जाता है in hindi

OTP Kya Hai, OTP ka full form One Time Password है. Online Verification, Login, Signup, Banking, Ticket Booking, Share Cab Book करते हुये कई Websites और Application user verify करने के लिए OTP मांगती है. यह One Time Password कभी ईमेल में तो कभी Phone के Message में Box में आता है. 






OTP मतलब एक ऐसा password जो सिर्फ एक ही बार के लिये प्रयोग हो सकता है. जब भी Email में Login करना होता है हमेशा एक ही पासवर्ड से लॉग इन करते हो. यदि Bank Transaction की बात की जाये तो Net Banking में login के लिए हमेशा एक ही Password use किया जाता है. जब Transaction करते हो कहीं पैसा भेजना होता है तो Bank से एक Message आता है यही Message OTP है.



OTP (One Time Password) Kya Hai

OTP Ka Full Form One Time Password, मतलब एक ऐसा Password जो सिर्फ एक बार ही use किया जा सकता है. Online Verification, Login, Ticket Booking या Online Shopping के बाद Payment करना होता है.
 जिसके लिए घर बैठे सुविधा का लाभ उठाया जाता है. घर बैठे सुविधा मतलब Net Banking, Mobile Banking, BHIM, Paytm, Debit Card या Credit Card से Payment कर देते हैं. यदि सिर्फ ATM Password से Payment हो जाये तो क्या होगा. इसीलिए Online Payment करते समय OTP Number की जरूरत होती है. यह एक Sms के रूप में आपके Registered मोबाइल नंबर पर आता है, OTP Code 4 से लेकर 8 अंको का भी होता है. OTP Verification किये बिना किसी भी अकाउंट से पेमेंट नहीं कर सकते है

OTP Ka Use Kyu Kiya Jata Hai

OTP Ka Use Account को सुरक्षित रखने के लिए किया जाता है. कुछ Website या application user verification के लिए भी OTP का use करती है. अक्सर user account (gmail, facebooklinkedintwitter) का password भूल जाता है. इसे reset करने के लिए email पर link भेजा जाता है या SMS में OTP भेजा जाता है और वेबसाइट / एप्लीकेशन द्वारा भेजा गया OTP की मदद से पासवर्ड रिसेट कर लेते है.
Digital Era में Online Hacking का खतरा काफी बढ़ गया है, ऐसे में OTP एक तरह का Security है. किसी के हाथ यदि Net Banking का ID, Password लग जाये तो कुछ भी हो सकता है लेकिन OTP की वजह से वह कुछ नहीं कर पता! कभी Facebook या Gmail पर कोई login करता है तो उसका message भी आ जाता है.


OTP से आपका account सु‍रक्षित रहता है. मै आपको SBI का उदाहरण देता हूँ, जब भी SBI की Net banking के द्वारा transaction करने की कोशिश करते है, SBI registered mobile पर एक OTP भेजता है, जिसके बिना transaction Complete नहीं होता है. यदि password किसी को पता भी चल गया तो भी account से transaction नही कर सकता क्‍योकि उसके पास registered phone नही है.
otp sample message
Google account को ज्‍यादा सुरक्षित करने के लिए 2 step verification Use कर सकते हैं. यह 2 step verification OTP से ही किया जाता है.

OTP किस तरह भेजा जाता है

OTP तीन तरह से भेजा जाता है. Sms OTP यह registered मोबाइल पर Sms द्वारा भेजा जाता है. अधिकतर वेबसाइट इसी का उपयोग करती है, यह आसान और सुरक्षित है. Voice Calling OTP यह registered मोबाइल पर फ़ोन कॉल कर भेजा जाता है. कई बार जब Message deliver होने में Late होता है तो Call किया जाता है. E-mail OTP इसमें Registered E-mail Id email में OTP भेजा जाता है. India में इसका use बहुत कम किया जाता है.

OTP Ka Use Kaha Kiya Jata Hai

मुख्य रूप से OTP का use ऐसी जगह ज्यादा होता हैं जहाँ पैसे का लेनदेन या किसी ऐसे Online Account में login करना हो जिससे user के कई information जुड़ा होता है. Example : Internet Banking, Aadhar Card, Share Cab Booking, Gmail Account 2 Step account verification. इसके अलावा भी OTP का इस्तेमाल बहुत जगह होता हैं. ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट ग्राहक के अकाउंट Security के लिए OTP का इस्तेमाल करती है. कुछ वेबसाइट और एप्लीकेशन अकाउंट बनाते समय भी OTP की मदद से user Verify करते हैं. ऑनलाइन बैंकिंग करते समय लगभग सभी बैंक इस विकल्प का इस्तेमाल करती है


Conclusion About OTP

OTP Ka Full Form One Time Password मतलब ऐसा पासवर्ड जो सिर्फ एक बार ही use किया जा सकता है. OTP की कुछ Validity भी होती है. Bank OTP का Validity 20 Minutes के approx होता है. यदि इस OTP का use 20 minutes के बाद किया जाये तो यह invalid हो जाता है. Digital Era में Hacking का खतरा बहुत बढ़ गया है. ऐसे में OTP एक सुरक्षित option है. इसका use करना चाहिए. यदि आप Gmail में 2 Step Verification Use करते हो लेकिन यदि कभी फ़ोन खो जाये तो क्या करें. ऐसे में 2 Step Verification enable करते समय Gamil कुछ Code देता है. जिसका use कर login कर सकते हो.

दोस्तों मुझे उम्मीद है की यह पोस्ट आपको बहुत पसंद आया होगा| यदि यह पोस्ट आपको पसंद आया तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ जरुर share करें और यदि इस पोस्ट से connected आपका कोई भी सवाल हो तो आप मुझे जरुर बताएं मैं आपके प्रॉब्लम का solution दूंगा |  Thanks for reading.  technology hindi solution

            I hope you liked it. Please share in social media and give feedback in comments .
Read More

malayalam telegram groups link

May 29, 2019 0

               malayalam telegram groups link

hey, 
guys these days we have a tendency to go with a replacement post regarding wire teams invite link list. authorisation of communities is that the would like of the hour and therefore wire teams ar proving to be a robusttool for doing thus. 100,000 members will be supported in an exceedingly single cluster and that we will have a limiteless quantity of such teams



Photos and plans will be shared on the wire teams with families and friends. to stay in reality with the investors and to answer their question wire teams ar terribly helpfulthis could even beused for coordination work with groups and businesses



I have used whatsapp and wire each however if honestly asked i might rate wire higher than whatsapp. I m not oral communication that whatsapp is dangerous however wire has some options that provides it a position over whatsapp.Telegram is entirely free, you don’t even need a balance to speaki might undoubtedly counsel you to affix wire and build friends worldwide.





We all wish things, particularly with our friends and beloved ones. however what number times did you probably did you get unsuccessful as a result of you weren’t ready to send the video as a result of its size was to massive. Whatsapp solely permits you to send up to sixteen MB video which is one among its major drawbacks. Don’t get unsuccessful any longerwire permits you to send a video of size one.5 GB. Isn’t it amazing? so it's.

But for a number of U.S. this can be still not terribly relevant. this can be as a result of knowledge consumption drawback is arising. Most people have restricted knowledgewe have a tendency to run out of information terriblypresentlyhowever there's the simplest way during which we will scale back knowledge consumption whereascausation files. Click on choices then click on Automatic media transfer and therefore we will modify the settings in step with our convenience.



Do you recognize what's the foremost outstanding feature of telegram? you need to have seen your friends sharing invite links. once a wire cluster invite link is distributedyou'll be a part of the cluster while not admin’s permission or while not the consent of the admin. This feature of wire makes it stand on the highest differentconnected apps within the market. However, whatsappalso has a similar feature on the market in it. By merely gapthe link new users ar redirected to a specific wire cluster.

After reading all this, nobody may resist and that i knew that. gap a replacement wire cluster is that the new concept that has stricken your mind as a result of all of you here needs to attach with new folks.

                     



One fine day I opened the cluster and it had been stuffed with invitations, sense of astonishment strickenAmerican state. All of a fast a replacement window got opened and that i was redirected to a different clusterwherever there have been different participants. the foremost wonderful issue was that each one of a fast I had joined a replacement wire cluster by simply clicking on the link. Isn’t it wonderful friends? i made a decision to possess some fun, thus I created a replacement wire and shared the link with everybody I knew. Adding friends to a gaggle has become far more easier as a result of the manual adding methodology victimization signaling is eliminated and this what wire offers you.


ज़रूर पढ़िए:



Suddenly a tremendous plan stricken my mind, I search regarding this on the net and that i have conjointly shared regarding this terribly post. you'll facilitate wire users to affix additional wire teams and share massive cluster links and can conjointly assist you to make worldwide property with folksteams or organizations.


To this explicit post, new and informative wire teams ar another daily. you'll anytime be a part of our cluster and that we assure you that it'd build your life additional and additional happening. And if you discover your life a touch boring or uninteresting you'll build new friends here and interact with them. There and lots of happening and fascinating wire links awaiting you to be joined. simply go down and have sensible look.




Recently we have a tendency to discovered that connection wire teams through invite links and additional and additional most popular by folks everywhere the planet. Some wish to create new friends, some have their own business concepts, some simply wish to launch and advertise their product. These ar the essential reasons why folks ar additional and additional connecting to wire teamsa number of the outstanding examples ar public wireteams, Indian wire teams, education teams, learning wire teams etc. thus hurry up, rush presently and be a part ofthe teams as quickly as you'll.

Via invitations link however will one be a part of the wire cluster chat. Follow the steps and this may change you to affix wire teamsyou only need to structure your mind concerning the classes during which you're really interested. Below there ar loads of wire teams shown.




Select your favorite wire cluster from below and simply click thereonyou may be redirected to a different window. It will open when a number of seconds. the entire list of share browser and application on your phone. After you faucet on the wire app, be a part of the cluster possibility are displayed.

                                Simply simply click on it possibility.


That cluster are joined presently when clicking it and simply ahead of you, it'll be displayed.

Join any range of teams with none limitations by simply continuation this method once more and once more if you prefer. This method is very simple and straightforward to grasp.




Through this post, I actually have shared ample wire teams and that i have conjointly collected ample wire clusterlinks with all the various types of classes. Below within the comment section completely different wire teams will be shared by you. On succeeding update i'll add the cluster link to the current post. Isn’t it associate degree awingplanit's so.

     List of Best Telegram Groups Link To Join

Technology telegram group links list to join

Telegram Group links list cricket

Telegram India Group List

Telegram English Group invite link

New Telegram supergroup


Only girl group

Language Telegram group link

Russian telegram group

Telegram groups list

Telegram Forex Groups

Telegram Trending group

Telegram Business Group link

Motivation Telegram Channels

Telegram Channels About Latest Movies & TV Shows

Best Telegram Groups for UPSC/IAS Preparation

Funny Telegram Group link list

Programming telegram group links list 2018

Quotes telegram channel list

 best Games and apps telegram channels list

Education telegram invite group links

Through this post I have shared lots of telegram groups and I have also collected lots of telegram group links with all the different kinds of categories. Below in the comment section different telegram groups can be shared by you. On the next update I will add the group link to this post. Isn’t it an awesome idea, it is indeed.
If you want to want join telegram channels then do read this article about best telegram channels list
ज़रूर  पढ़िए  :

Disclaimer – All telegram groups invite link does not belong to us, in fact they are completely public. For business promotion and sharing information telegram groups are very beneficial. If you are joining a telegram group it’s totally your own call. If anything happens in that group we are not to be held responsible. We would recommend you to be sincere  telegram group admins and eliminate unwanted participants. Keeping your group free from spams is completely your task. If you want us to remove telegram group links kindly ask us to do so.


दोस्तों मुझे उम्मीद है की यह पोस्ट आपको बहुत पसंद आया होगा| यदि यह पोस्ट आपको पसंद आया तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ जरुर share करें और यदि इस पोस्ट से connected आपका कोई भी सवाल हो तो आप मुझे जरुर बताएं मैं आपके प्रॉब्लम का solution दूंगा |  Thanks for reading.  technology hindi solution


            I hope you liked it. Please share in social media and give feedback in comments .
Read More