CPM kya hota hai - Technology Solution - Technology Hindi Solution

आपको यहॉ Computer Tricks In Hindi, Computer Learning Blog In Hindi, Seo Tips In Hindi, Internet, Phone, Facebook, Android, Computer Tips And Tricks In Hindi, Best How To Article In Hindi, Ms Word, Ms Excel, Technology News In Hindi, Learn Hindi Typing, Google Seo Tips In Hindi,hacking trick,computers hacking ,mobile hacking ,hacking tools use ,Technology ,nono Technology , Facebook Tricks In Hindi ,tech news in hindi जो आपके कम्प्यूटर ज्ञान को बढाने में सहायक हो सकते हैं

New Post

Monday, July 2, 2018

CPM kya hota hai - Technology Solution

i am parthik thakur 

welcome to technogloy  website

                   CPM kya hota hai 

Hello friends: दोस्तों अगर आपके पास कोई website/blog या YouTube channel है। तो आप google adsense को जरूर use करना चाहेंगे। आप अपनी website या YouTube पर google adsense से online पैसे कमा सकते है । एडसेंस एक बहुत ही अच्छा और विश्वसनीय ads प्लेटफार्म है। दोस्तों लेकिन उसके लिए आपको Google AdSense की कुछ बेसिक knowledge होना बहुत जरुरी है। 


Google Adsense में use होने वाले basic टूल्स जैसे – CPM, CPC, CPA और CPR की जानकारी होना जरुरी है। इन टूल्स के साथ साथ आपको इससे related efficiency and cost का भी पता होना चाहिए। दोस्तों आज हम आपको बताने जा रहे CPM, CPC, CPA और CTR क्या होता है ? और इन्हें कैसे COUNT करते है ?


CPC (Cost per Click) –

दोस्तों सबसे पहले आता है CPC यानी cost per click। जैसा की नाम से ही मालूम हो रहा है। कि आपको प्रति क्लिक पर कितना पैसा मिलेगा । इसमे impression से कुछ भी मतलब नहीं है । जैसा की हम जानते है । कि Advertisers को उनके ad  पर click होने पर publisher को पैसे देने होते है। Cost per click की rate keywords पर depend करता है । इस तरह कुछ ज्यादा हाई पेइंग keywords होते है और कुछ LOW पेइंग । For example – “Finance” से रिलेटेड keywords हाई पेइंग होते है ।
CPC कैसे Calculate करते है– CPC कैलकुलेट करने के लिए निम्न फार्मूला use किया जाता है –
CPC = Advertiser की total cost / Number of clicks
दोस्तों CPC की rate $10 per click भी हो सकती है और 1 cents per click भी । CPC पूरी तरह से कीवर्ड्स पर निर्भर  करती है।
इसके साथ ही CPC advertiser के बीच में keyword competition पर भी निर्भर करती है । जितना ज्यादा keyword का competition होगा उतना ही ज्यादा उसकी demand होगी और इसी तरह cost भी बढ़ेगी।

CPM (Cost per Thousand ) –


दोस्तों CPM के बारे में आप जानते होंगे। CPM Adsense का एक basic tool है। CPM का पूरा नाम COST PER THOUSAND होता है। यहाँ पर CPM में “M” represents the roman numerical for 1,000।  CPM को हम cost per thousand of impressions भी कह सकते है । क्योंकि आपके website पर  show हो रहे  per 1000 impression के हिसाब से आपको payment की जाती है। यह पहले से ही फिक्स होता है।
अगर सिंपल सब्दो में कहे तो per 1000   पर जो advertiser है ,उसको कितनी payment करनी होगी। इसका CPM से हिसाब लगाया जाता है।
CPM kaise calculate karte hai दोस्तों CPM निकालने के लिए सबसे पहले advertisers required keywords जिन पर ad show कराना है । उन पर biding करके cost निकालते है । उसके बाद total number of impressions जो की आपके ad को मिलेगा उनको 1000 से divide करके cpm निकाल लिया जाता है। जैसे – अगर आपका ad 20,000 impressions करता है ,तो आपको 1000 से divide करना होगा | 

No comments:

Post a Comment