Click here to the Cookie consent PHP क्या है ? क्यूँ Use होता है ? in hindi By Technology Solution - Technology Hindi Solution

आपको यहॉ Computer Course all book ,Computer Tricks, Computer Learning, Blogging Tricks,Seo Tips, Internet, SmatPhone, Facebook, Android, Computer Etc Tips And Tricks, Best How To Article trick, Ms Word, Ms Excel, Technology News, Learn Hindi Typing, Google Seo trick,hacking trick,computers hacking ,mobile hacking ,hacking tools use ,Technology ,nono Technology , Facebook,tech news, सब कुछ आपको हिंदी में मिलेगा जो आपके कम्प्यूटर ज्ञान को बढाने में सहायक हो सकते हैं

New Post

Saturday, June 16, 2018

PHP क्या है ? क्यूँ Use होता है ? in hindi By Technology Solution

i am parthik thakur 

welcome to technogloy  website


हेलो फ्रेंड्स ! आज मैं आपको बताऊंगा PHP के बार में. पीएचपी यानी Personal Homepage Application का अविष्कार Rasmus Lerdorf  ने 1994 में अपने प्रयोग के लिए किया था. वर्तमान में इसे hypertext preprocessor कहा जाता है. PHP का जन्म 1994 में एक pearl program के रूप में हुआ जिसे Rasmus Lerdorf  ने अपने ऑनलाइन resume को analyse करने के लिए लिखा था. यह C language एप्लीकेशन को दोबारा लिखता है और उन्हें फ्री सॉफ्टवेयर कम्यूनिटी प्रोग्राम द्वारा खोलता है. वर्तमान समय में हम PHP-6 का इस्तेमाल करते है.

learn-PHP-hindi
PHP बिल्कुल मुफ्त है इसलिए My SQL Database Host को फ्री में उपलब्ध कराते हैं हालांकि इस में कॉपीराइट भी होता है. PHP एक बहुत ही सरल Scripting Language है, जिसे बडी ही आसानी से व तेज गति से सीखा जा सकता है. यानी PHP की सरलता  ही इसकी सबसे बडी विशेषता भी है.


PHP किसी भी मशीन में चल सकता है जैसे कि यूनिक्स , लिनक्स , Windows. PHP एक Server Side Scripting Language है. यानी ये एक ऐसी Scripting Language है, जो किसी Web Application या Web Page को Server Side में Control करने के लिए उपयोगी है. वर्तमान समय में लगभग 70% से ज्‍यादा Web Sites व Web Applications Apache Web Server पर Run होते हैं और Apache Web Server पर सबसे ज्‍यादा उपयोग में ली जाने वाली Scripting Language PHP ही है.

PHP के बाद सबसे ज्‍यादा उपयोग में लिया जाने वाला Web Server IIS Web Server है, जो कि Microsoft Company ने Design किया है. चूंकि इस Web Server को Microsoft Company ने Design किया है,  इसलिए ये Web Server Microsoft Company की Server Side Scripting Language ASP.Net को बेहतर तरीके से Support करता है, जो कि Internally VB.Net व C#.Net को उपयोग में लेता है.

PHP की मूल विशेषता विभिन्‍न प्रकार की जरूरतों को पूरा करने के लिए इसमें Include की गई विभिन्‍न प्रकार की Core Libraries हैं जिसमें 1000 से ज्‍यादा उपयोगी Functions हैं, जो विभिन्‍न प्रकार की Real Life जरूरतों को आसानी से पूरा करने के लिए Define किए गए हैं. इस Core Library Functions पर जितनी अच्‍छी पकड होती है, PHP पर भी उतनी ही अच्‍छी पकड होती है. यानी आप  PHP के इन Core Functions को जितना अच्‍छी तरह से उपयोग में लेना सीखते हैं, आप उतने ही अच्‍छे PHP Programmer बनते हैं.

PHP एक बहुत ही सरल व General Purpose Scripting Language है जो कि लगभग 70% “C” Language व बाकी का 30% “C++” व “Java” Programming Language की तरह है. इसलिए यदि आप “C”, “C++” व “Java” में से एक या एक से ज्‍यादा Programming Languages जानते हैं, तो आप बडी ही आसानी से PHP को सीख सकते हैं और इसे उपयोग में लेते हुए Dynamic Website या Web Application Create कर सकते हैं.

उदाहरण के लिए PHP में पांचवें Version में PHP को Object Oriented Features से युक्‍त किया गया है जो कि एक बहुत ही उपयोगी Concept है. इस पुस्‍तक में न केवल Core PHP को अच्‍छी तरह से विभिन्‍न उदाहरणों के माध्‍यम से समझाने की कोशिश की गई है, बल्कि साथ ही साथ Object Oriented PHP जैसे Advance Concepts को भी बहुत ही विस्‍तार से समझाया गया है.

वर्तमान समय में Web Applications व Dynamic Web Sites को तेज गति से Develop करने के लिए विभिन्‍न प्रकार Frameworks (जैसे कि WordPress, Joomala, Drupal, Symfony, CakePHP, Zend, MODx, Magento, OSCommerce, OpenCart) आदि Develop किए गए हैं, जहां 80% से ज्‍यादा Frameworks केवल PHP Development पर आधारित हैं.

यानी वर्तमान समय में PHP Web पर Use की जाने वाली Most Popular Scripting Language है. इसलिए यदि आप इन Frameworks को भी अच्‍छी तरह से समझना चाहते हैं, तो आप केवल उसी स्थिति में इन Frameworks को बेहतर तरीके से समझ सकते हैं, जबकि आपको Core PHP का अच्‍छा ज्ञान हो.

तो दोस्तों हमारा ये पोस्ट आपको कैसा लगा comment के माध्यम से जरुर बताएं और social media में शेयर करना न भूलें.
                                      

No comments:

Post a Comment